जयपुर : सरकारी आफिस में युवती के साथ आपत्तिजनक स्थिति एसीपी गिरफतार

0
25
Women's Atrocities Research Unit, Acb team Jaipur, RPS Kailash Bohra, Kailash Bohra, Rape Case, Girl For Money, Rajasthan Police,

रिश्वत में अस्मत मांगने वाला एसीपी गिरफ्तार
जयपुर। राजस्थान में महिलाओं की सुरक्षा में नाकाम पुलिस का असली चेहरा एक बार फिर सामने आया है। जिसमें जयपुर शहर (पूर्व) जिले की राजस्थान पुलिस महिला अत्याचार अनुसंधान यूनिट  (Women’s Atrocities Research Unit) के प्रभारी आरपीएस अधिकारी (RPS Officer) को रविवार को बलात्कार के मामले में जांच को लेकर रिश्वत की मांग पूरी न करने पर फिर बेबस 30 वर्षीय युवती को अधिकारी के साथ आफिस में आपत्तिजनक(Girl Relationship )  स्थिति में भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (ACB Jaipur Team) की टीम ने रंगे हाथों गिरफ्तार किया है। इस मामले की आंच पुलिस महकमें से निकलकर सता के गलियारों तक पहुंच गई है।

ये है पूरा मामला
भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो(ACB) के महानिदेशक(DIG) बीएल सोनी (B.L.Soni) ने बताया कि टीम ने राजस्थान पुलिस महिला अत्याचार अनुसंधान यूनिट के प्रभारी को बलात्कार के मामले में जांच के लिए रिश्वत और फिर अस्मत मांगने वाले अधिकारी कैलाश बोहरा (RPS Kailash Bohra) को ऑफिस में आपत्तिजनक हालत में पकड़ा है।

पकड़ा गया अधिकारी महिला को एक बलात्कर केस की जांच के बहाने बार-बार ऑफिस बुलाता था। पहले जांच के लिए रिश्वत और फिर अस्मत मांग कर लगातार परेशान किया। इससे पूरेशान होकर युवती ने 6 मार्च 2021 को एसीबी से पूरे मामले की शिकायत की। शिकायत में उसने बताया कि जयपुर के जवाहर सर्किल पुलिसथाने में एक युवक व अन्य लोगों के खिलाफ बलात्कार, धोखाधड़ी सहित 3 मुकदमे दर्ज करवाए गए थे। इन मुकदमों की जांच महिला अत्याचार अनुसंधान यूनिट में एसीपी कैलाश बोहरा कर रहे हैं। इस मामले में 13 दिन पहले रिश्वत के रुप में रुपये फिर अस्मत मांगी गई।

यह भी पढ़ें:  राजस्थान: रिश्वत में अस्मत मांगने वाला एसीपी कैलाश चंद बोहरा निलंबित

राजस्थान: रिश्वत में अस्मत मांगने वाला एसीपी कैलाश चंद बोहरा निलंबित

जांच अधिकारी ने रिश्वत व अस्मत न देने पर लगातार आफिस बुलाना शुरु कर दिया। इतना ही नही अधिकारी ने आफिस टाइम के बाद भी बुलाना शुरु कर दिया। ऑफिस में जांच के लिए बुलाना, फिर कमरा बंद कर छेड़छाड़ शुरू करने पर एसीबी की जयपुर देहात इकाई के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक नरोत्तम लाल वर्मा के नेतृत्व में शिकायत का सत्यापन किया। इसके बाद रविवार को युवती को कैलाश बोहरा ने डीसीपी कार्यालय में स्थित अपने सरकारी ऑफिस में बुलाया और छुटटी होने के कारण स्टॉफ मौजूद नहीं होने की जानकारी भी अधिकारी को थी। इस पर पीड़िता को ऑफिस में बुलाया। अधिकारी ने पीड़िता के अंदर आने के बाद दरवाजा बंद कर लिया तभी एसीबी की टीम ने कैलाश बोहरा को महिला के साथ आपत्तिजनक स्थिति में रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया।

बीकानेर : सरकारी स्कूल के शिक्षक की शर्मनाक करतूत, ग्रामीणों ने दिया अल्टीमेटम
एसीबी के अतिरिक्त महानिदेशक दिनेश एम.एन. के निर्देशन में आरोपी कैलाश बोहरा के सरकारी निवास एवं अन्य ठिकानों की तलाशी अभी जारी है।

कोई रिश्वत मांगता है तो इन नंबरों पर करें शिकायत: डीजी बीएल सोनी
भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो महानिदेशक बीएल सोनी ने राजस्थान(Rajasthan) के निवासियों से अपील की है कि भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो की टोल-फ्री हेल्पलाइन नं. 1064 एवं Whats app हेल्पलाईन नं. 94135-02834 पर 24X7 सम्पर्क कर भ्रष्टाचार के विरुद्ध अभियान में अपना महत्वपूर्ण योगदान देवें।

News Keywords : Women’s Atrocities Research Unit, Acb team Jaipur, RPS Kailash Bohra, Kailash Bohra, Rape Case, Rajasthan Police

यह भी पढ़ें:  गैंगेस्टर पपला गुर्जर की गर्लफ्रेंड जिया को मिली जमानत