राजस्थान विधानसभा चुनाव 2018 : फिर अपने वोटों की ताकत का अहसास कराएगा डेरा सच्चा सौदा

0
congress -BJP, Dera saccha sauda, gurmeet ram rahim sirsa,
जयपुर। राजस्थान विधानसभा चुनाव की तारीख ज्यों-ज्यों नजदीक आ रही है त्यों-त्यों राजनैतिक दल वोटर्स को लुभाने की कवायद तेज कर रहे हैं। सत्तारूढ़ भाजपा व विपक्षी मुख्य दल कांग्रेस पार्टी को चुनावी पटखनी देने के लिए जहां हनुमान बेनीवाल, घनश्याम तिवाड़ी जैसे दिग्गज नेता तीसरे मोर्चे के जरिए वोटर्स को अपनी गिरफ्त में करने में जुटे हैं, वहीं बसपा, आप, माकपा व जमीदारा पार्टी भी पिछले परिणाम दोहराने की दिशा में अपने कदम बढ़ रही है। इन सबके बीच प्रदेश के 13 जिलों के 78 विधानसभा क्षेत्रों में लाखों अनुयायियों वाले डेरा सच्चा सौदा के अनुयायी भी इस बार फिर से अपने वोटों की ताकत का अहसास कराने के उदेश्य से एकजुट होने लगे हैं।

यौन शोषण के मामले में सजा काट रहे डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह के जेल में होने के बावजूद डेरा अनुयायियों की एकता में कहीं कमी नजर नहीं आ रही है। डेरा सच्चा सौदा के प्रथम गुरू शाह मस्ताना जी महाराज के नवंबर को जन्म महीने के उपलक्ष में मना रहे डेरा की नामचर्चाओं में उमड़ रही डेरा अनुयायियों की भीड़ इस बात का परिचायक है कि उनकी डेरा के प्रति श्रद्धा-भावना अभी भी कम नहीं हुई है।

#MeTooकी तर्ज पर #MenToo: अब पुरुष भी करेंगे महिलाओं के हाथों अपने यौन शोषण का ‘खुलासा’

इन दिनों डेरा सच्चा सौदा के प्रदेश के 13 जिलों के सभी 98 ब्लॉकों में एक नवंबर से नामचर्चाओं का दौर शुरू हो चुका है। सूत्रों के मुताबिक इन नामचर्चाओं में आगामी विधानसभा चुनाव में इस बार भी एकजुटता के साथ अपने मताधिकार का इस्तेमाल करने को लेकर कवायद शुरू हो चुकी है। डेरा के राजस्थान की राजनीतिक विंग के सदस्य नामचर्चाओं में श्रद्धालुओं को एकजुट होकर वोट डालने के लिए प्रेरित कर रहे हैं।congress -BJP, Dera saccha sauda, gurmeet ram rahim sirsa,

वहीं, संभावित प्रत्याशी इस बार भी डेरा के ब्लाक स्तरीय पदाधिकारियों से संपर्क साधने लगे हैं। माना जा रहा है कि डेरा प्रमुख की गैरमौजूदगी में उनके पारिवारिक सदस्यों के जरिए ही राजनेता डेरा के वोट बैंक को साधने का प्रयास करेंगे। बहरहाल जो भी हो इस बार डेरा मुख्यालय सिरसा की बजाय डेरा प्रमुख की जन्मस्थली श्रीगुरूसरमोडिया (श्रीगंगानगर) आगामी दिनों में राजनीति का प्रमुख केंद्र होगा।

इन जिलों में डेरा का प्रभाव 
डेरा सच्चा सौदा का प्रदेश के 13 जिलों-श्रीगंगानगर, बीकानेर, हनुमानगढ़, चूरू, सीकर, झुंझनुं, अलवर, जयपुर, कोटा, बूंदी, दौसा, उदयपुर, टोंक जिले के 78 विधानसभा क्षेत्रों में करीब 35 लाख अनुयायी हैं। इनमें से करीब 20 लाख वोटर्स हैं। खासकर अलवर जिले के कोटपुतली, बहरोड़, शाहपुरा, राजगढ़, जयपुर, बगरू, चौमू, कोटा, रावतभाटा, सीकर, उदयपुर वाटी, झुंझनुं, हनुमानगढ़ जिले के भादरा, नोहर, पीलीबंगा, हनुमानगढ़, संगरिया, श्रीगंगानगर जिले के सूरतगढ़, अनूपगढ़, रायसिंहनगर, श्रीकरणपुर, सादुलशहर, श्रीगंगानगर,  बीकानेर जिले के खाजूवाला, लूणकरणसर, कोलायत व नोखा विधानसभा क्षेत्र में डेरा वोटर्स का अत्यधिक प्रभाव है। इनमें प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में औसतन 25 से 30 हजार डेरा अनुयायी वोटर्स हैं।
हर ताजा खबर जानने के लिए हमारी वेबसाइट www.hellorajasthan.com विजिट करें या हमारे फेसबुक पेजट्विटर हैंडल,गूगल प्लस से जुड़ें। हमें Contact करने के लिएhellorajasthannews@gmail.comपर मेल कर सकते है।

Leave a Reply