बड़ी खबर : चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर JDU में हुए शामिल

0

पटना। देश के जानेमाने चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने जदयू की सदस्यता ग्रहण कर ली है। अब वे बिहार से अपने राजनीतिक करियर का आगाज कर रहें है। उन्होेने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की मौजूदगी में पार्टी की प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक में इसकी घोषणा की है।

सहारा इण्डिया कंपनी ने किया करोड़ों का गबन, कोर्ट में मामला, फिर भी कम्पनी जमाकर्ताओं के रिकाॅर्ड को खुर्द बुर्द करने में जुटी
जदयू में शामिल होने का फैसला करने के बाद प्रशांत किशोर ने कहा कि यह ऑफर तो काफी पहले आ गया था। उन्होंने कहा कि सीएम नीतीश जो भी जिम्मेदारी देंगे, वह उसे निभाएंगे। आगामी लोकसभा चुनावों में सीट बंटवारे को लेकर प्रशांत किशोर ने कहा कि दस दिनों के अंदर सीटों का फैसला हो जाएगा। साथ ही, उन्होंने कहा कि यह तय है कि जदयू बड़े भाई की भूमिका में रहेगा।
SBI ने बदला कैश डिपॉजिट का नियम, अब दूसरे के खाते में नहीं जमा कर पाएंगे कैश

पिछले दिनों हैदराबाद के इंडियन स्कूल ऑफ बिजनेस में एक कार्यक्रम में प्रशांत किशोर ने कहा था कि वह अब जनता के बीच जाकर उनके लिए काम करना चाहते हैं। जब उनसे पूछा गया कि वह कहां से काम करना चाहते हैं, तो उन्होंने बिहार और गुजरात का नाम लिया। प्रशांत किशोर के नीतीश कुमार के साथ काफी अच्छे संबंध हैं। इस पर जदयू के वरिष्ठ नेता केसी त्यागी ने बयान जारी करते हुए कहा कि प्रशांत किशोर ने राजनीति में आने की इच्छा प्रकट की है और अगर वह जदयू में आना चाहते हैं तो हम उनका स्वागत करेंगेे।

लोकसभा चुनाव 2019 : भाजपा अपनाएगी अब T-20 फॉर्मूलागौरतलब है कि प्रशांत किशोर ने 2014 के लोकसभा चुनावों भाजपा के लिए चुनावी रणनीतियां बनाई थीं और इन चुनावों में भाजपा को बड़ी जीत हासिल हुई थी। इसके बाद प्रशांत किशोर ने काफी सुर्खियां भी बटोरी थीं। 2015 के बिहार विधानसभा चुनावों में प्रशांत किशोर महागठबंधन (राजद, जदयू, कांग्रेस) के लिए प्रचार की कमान संभाली थी। इस चुनाव में भाजपा को करारी हार का सामना करना पड़ा था।
प्रशांत किशोर इंडिया पॉलिटिकल एक्शन कमेटी के संस्थापक हैं। 2017 में उत्तर प्रदेश और पंजाब विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के लिये काम कर चुके हैं।

खुशखबरी: फ्लाइट लेट हुई तो मिलेगा 1000 रुपये का क्लेम

रेवाड़ी: दुष्कर्म के आरोपियेां की जारी हुई तस्वीरें, मुख्य आरोपी सेना का जवान

अब कैश जमा करने के लिए SBI ने फिर बदला नियम

खास खबर : टीबी से महिलाओं और पुरुषों में बांझपन का खतरा

हाइफा आजादी का दिन :अपने पूर्वजेां के कर्मों और विरासत को सरंक्षित करने में युवा अह्म भूमिका निभाएं: सेना कमांडर

हर ताजा खबर जानने के लिए हमारी वेबसाइट www.hellorajasthan.com विजिट करें या हमारे फेसबुक पेजट्विटर हैंडल,गूगल प्लस से जुड़ें। हमें Contact करने के लिएhellorajasthannews@gmail.comपर मेल कर सकते है।

Leave a Reply