युद्धाभ्यास ‘विजय प्रहार’: दुश्मन को पराजित कर किया कब्जा

0

बीकानेर। सप्त शक्ति कमान के युद्धाभ्यास ‘विजय प्रहार’ में 25000 सैनिकों ने अपने पूरे हथियारों एवं साज़ो-सामान के साथ युद्ध के अंतिम चरण में हिस्सा लिया। यह युद्ध अभ्यास राजस्थान के महाजन फील्ड फायरिंग रेंज में चल रहा है। अंतिम चरण में लेफ्टिनेन्ट जनरल चेरिष मैथसन, जनरल आॅफिसर कमाण्डिंग-इन-चीफ, सप्त शक्ति कमान ने इस अभ्यास का अवलोकन और सैनिकों की सराहना की।

मुकेश अंबानी की बेटी ईशा बनेगी पिरामल खानदान की बहू

जनरल आॅफिसर ने मीडिया से चर्चा करते हुए कहा कि मैंने इस युद्ध अभ्यास के लिए विभिन्न प्रकार के कठिन मापदण्ड तय किए थे और अपने सैनिकों द्वारा हासिल किए गए नतीजों से पूरी तरह संतुष्ट हूॅं। उन्होंने आगे कहा युद्धाभ्यास विजय प्रहार का प्रारंभ एक आक्रामक रणनीति के तहत् वायु एवं पृथ्वी में समन्वित युद्ध के तौर पर पूरी खुफिया जानकारी का इस्तेमाल करते हुए हुआ था। इस अभ्यास में एयर कैवेलरी रणनीति का पूरी तरह से इस्तेमाल किया गया और उसे सफल पाया गया है साथ ही सभी सैनिक परमाणु दूषित वातावरण में किसी भी प्रकार की आक्रामक कार्यवाही करने के लिए अब पूरी तरह से प्रषिक्षित हैं।

रसद पहुॅंचाने की जस्ट इन टाइम तकनीक का इस्तेमाल करते हुए हमारी सेना अब दुष्मन के इलाके में गहराई तक जाकर मार कर सकने में सक्षम है। इस युद्ध अभ्यास में वायुसेना के साथ भी बेहतर किस्म का समन्वय स्थापित हुआ।

पर्यटन : इन देशों 14 देशों में जमकर चलेगा भारतीय रुपया, बनाये घूमने का प्लान

जनरल चेरिष मैथसन ने भीषण गर्मी एवं आंधी के वातावरण में जवानों द्वारा पूरी वीरता एवं निष्ठा से किए गए इस युद्ध अ

भ्यस की सराहना की।

विवाह समारोह में राधे मां का मदहोश डांस, सोशल मीडिया पर हुआ वायरल

युद्वाभ्यास विजय प्रहार: दुश्मन का नामों निशान मिटाने को तैयार जांबाज

शर्मनाक : युवती ने BJP नेता पर लगाया शारीरिक शेाषण का आरोप

मोबाइल उपभोक्ता इस तरह से आधार से लिंक करें अपना मोबाइल नंबर

पाइए हर खबर अपने फेसबुक पर।  Like कीजिए  hellorajasthan का Facebook पेज

Leave a Reply