डा.मेघना शर्मा को मिला सावित्री बाई फूले सम्मान

रोहतक/ बीकानेर। बीकानेर के एमजीएसयू के सेंटर फॉर वूमन स्टडीज की डायरेक्टर व कवयित्री-कथाकार डाॅ. मेघना शर्मा को रोहतक की युवा कवयित्री सृष्टि गौड के प्रथम अंग्रेज़ी कविता संग्रह “रिफ्लेक्शन फ्राम दि हार्ट ” के लोकार्पण समारोह के दौरान सम्मानित किया गया। समारोह की मुख्य अतिथि हरियाणा साहित्य अकादमी की पूर्व निदेशक एवं वर्तमान में केंद्रीय हिंदी साहित्य अकादमी, नई दिल्ली की सदस्य डाॅ. मुक्ता मदान रहीं जिनके हाथों डॉ. मेघना को सामाजिक विज्ञान व साहित्य के क्षेत्र में उनकी उपलब्धियों के लिए हरियाणा सोसायटी फॉर सोशल डेवलपमेंट एण्ड रिसर्च, डाॅ. अंबेडकर एसोसियेशन आॅफ सोशल साइंटिस्ट्स व अंबेडकर मिशनरीज़ टीचर एसोसिएशन  (अमता) हरियाणा आदि संस्थाओं द्वारा सम्मानित किया गया। लगभग पाँच दर्जन रचनाओं के संग्रह की रचियता सृष्टि गौड़ की रचनाओं पर पेंसिल स्केच श्रेया गौड़ द्वारा बनाए गए हैं। विशिष्ट अतिथि की भूमिका में हरियाणवी भाषा के विकास में वर्षो से संलग्न डाॅ. सुधीर शर्मा,  जे.एन .यू, नई दिल्ली के राजनीति विज्ञान के युवा प्रोफेसर नरेंद्र कुमार, अंतरराष्ट्रीय शोध जर्नल “दि एक्सप्रेशन ” के  प्रमुख संपादक प्रोफेसर बृजेंद्र सिंह व रोहतक जिला वन मंडल अधिकारी वेद प्रकाश गौर उपस्थित रहे। डाॅ. मेघना ने संग्रह की रचियता  सृष्टि गौड को यंग अचीवर अवार्ड देकर सम्मानित किया ।

पाइए हर खबर अपने फेसबुक पर।   likeकीजिए  hellorajasthan का Facebook पेज।