Asian Games 2018 : राही सरनोबत बनी एशियाई खेलों में स्वर्ण जीतने वाली पहली महिला निशानेबाज

0

पालेमबांग/नई दिल्ली। एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जीतने वाली पहली भारतीय महिला निशानेबाज राही सरनोबत बन गयीं। इन खेलों में उन्होंने महिलाओं की 25 मीटर पिस्टल स्पर्धा में दो बार शूट ऑफ से गुजरने के बाद यह उपलब्धि हासिल की। इस 27 वर्षीय निशानेबाज ने जकाबारिंग शूटिंग रेंज में खेलों के नये रिकार्ड के साथ सोने का तमगा जीता। राही और थाईलैंड की नपासवान यांगपैबून दोनों का स्कोर समान 34 होने पर शूट ऑफ का सहारा लिया गया। पहले शूट ऑफ में राही और यांगपैबून ने पांच में से चार शाट लगाये। इसके बाद दूसरा शूट ऑफ हुआ जिसमें भारतीय निशानेबाज जीत दर्ज करने में सफल रही। दक्षिण कोरिया की किम मिन्जुंग ने कांस्य पदक जीता।

सर्वे में बड़ा खुलासा :TMC-BSP-SP के साथ कांग्रेस के गठजोड़ से रुक सकता है मोदी का चुनावी विजय अभियान
युवा मनु भाकर को हालांकि फाइनल में निराशा झेलनी पड़ी। उन्होंने क्वालीफिकेशन में 593 के रिकार्ड स्कोर के साथ फाइनल में जगह बनायी थी। लेकिन यह 16 वर्षीय निशानेबाज आखिर में छठे स्थान पर रही। वहीं राही ने सातवें स्थान पर रहते हुए फाइनल में जगह बनायी थी। राही फाइनल में अधिकतर समय शीर्ष पर थीं और अपने पहले 10 शॉट एकदम निशाने पर मारे। इस उपलब्धि के साथ राही मौजूदा एशियाई खेलों में स्वर्ण जीतने वाली देश की दूसरी निशानेबाज बन गयीं।  

बड़ी खबर: इस तारीख से काम करना बंद कर देगा SBI का ATM कार्ड

कल 16 साल के सौरभ चैधरी ने 10 मीटर पिस्टल फाइनल में स्वर्ण जीता था। राही एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जीतने वाली भारत की अब तक की छठी निशानेबाज हैं। पूर्व में जसपाल राणा, रणधीर सिंह, जीतू राय और रंजन सोढ़ी स्वर्ण जीत चुके हैं। फाइनल में राही का 34 का स्कोर एशियाई खेलों का एक संयुक्त रिकार्ड है। इससे पहले 2013 में विश्व कप में स्वर्ण पदक जीतने वाली भारत की पहली पिस्टल निशानेबाज बनीं राही को पिछले साल कोहनी में गंभीर चोट का सामना करना पड़ा था। राही ने महसूस किया कि उन्हें अपने तकनीक में बदलाव करने की जरूरत है और इसलिए दो बार के विश्व विजेता एवं जर्मनी के ओलंपिक पदक विजेता मुन्खबायर दोर्जसुरेन से ट्रेनिंग लेनी शुरू कर दी।

देश भर में अटल अस्थि कलश यात्रा: मोदी-शाह ने प्रदेश भाजपा अध्यक्षों को सौंपा अस्थि कलश
इससे पहले राही ने 2010 के राष्ट्रमंडल खेलों में दो स्वर्ण और 2014 के इंचिओन एशियाई खेलों में कांस्य पदक जीता था। महिलाओं की राइफल थ्री पोजिशन स्पर्धा में अंजुम मोदगिल और गायत्री नित्यानंदम फाइनल में जगह बनाने में नाकाम रहीं। अंजुम ने क्वालीफिकेशन में शानदार शुरूआत की लेकिन स्टैंडिंग सीरीज में निराशाजनक प्रदर्शन के बाद प्रतिस्पर्धा से बाहर हो गयीं।

पूर्व पीएम वाजपेयी के नाम पर बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे का नाम ‘अटल पथ’

कांग्रेस नेता नवजोत सिद्ध ने दी सफाई कहा: आने वाले दिनों में दोनों देशों के आपसी तनाव कम होने की संभावनाएं भी बढ़ी

Kerla Flood : केरल में बाढ़ पीड़ितों के लिए यूएई ने दिए 700 करोड़ रुपए

खुशखबरी: ड्राइविंग लाइसेंस सहित अन्य कागज डिजिटल रूप में भी होंगे वैध

अब ट्रेन का सफर हुआ आसान, मोबाइल से बुक होंगे जनरल टिकट

हर ताजा खबर जानने के लिए हमारी वेबसाइट www.hellorajasthan.com विजिट करें या हमारे फेसबुक पेजट्विटर हैंडल,गूगल प्लस से जुड़ें। हमें Contact करने के लिएhellorajasthannews@gmail.comपर मेल कर सकते है।

Leave a Reply