जयपुर में चलती कार में युवती से हुआ गैंगरेप, विडियो हुआ वायरल

0
5
Girl , moving car, gang rape, UP Girl, Gang rape in moving car,Mansrover Police Station,

जयपुर। राजधानी में अपराधों का ग्राफ निंरतर बढ़ता जा रहा है। राजधानी में चलती कार में एक युवती से दुष्कर्म (Gang rape in moving car) का विडियो सोशल मीडिया (Video Viral on Social Media) पर वायरल होने के बाद पुलिस ने मामला दर्ज कर तीन जनों को गिरफतार किया है। विडियो वायरल होने के बाद युवती को पुलिस ने जयपुर बुलाकर केस दर्ज कराया है। युवती उत्तरप्रदेश (UP Girl)कर रहने वाली है।

ये है पूरा मामला
राजधानी पुलिस (Jaipur Police)को जब इस वीडियो के बारे में पता चला तो इसकी जांच कराई गई। जिसमें पता चला कि उक्त युवती के साथ गैंगरेप होना स्पष्ट हो रहा था और एक महिला व पुरुष के साथ अन्य व्यक्तियों की आवाज आ रही थी। कार में ही एक व्यक्ति महिला की पिटाई भी कर रहा था। इस विडियो में पुलिस को आवाज जयपुर की भाषा से मिली जुली लगी। पुलिस ने गभीरता से लेते हुए जांच शुरू की। कुछ समय में ही पीड़िता की पहचान यूपी निवासी युवती के रुप में हुई। इसके बाद पुलिस ने पीड़िता को जयपुर बुलाया और राजधानी के मानसरोवर पुलिस थाने में पीड़िता की ओर से मुकदमा दर्ज कराया गया।

कार में कुछ इस तरह हुआ दुष्कर्म
राजधानी के मानसरोवर (Mansrover Police Station)में पीड़िता ने पुलिस में मामला दर्ज कराया कि 19 अक्टूबर 2020 को वह जयपुर के न्यू सांगानेर रोड़(New Sanganer Road) स्थित साईं कृपा होटल (Sai Kripa Hotel)में कमरा लेकर रुकी। यंहा पर युवती के परिचित संजू बंगाली ने उसे पैसों का लालच देकर यश होटल (Yash Hotel)के पास मांग्यावास में एक कार में बैठा दिया। इस कार में पहले से 4 अन्य लोग सवार थे। इस कार सवार युवकों ने युवती का मोबाइल छीन लिया और महेन्द्रा सेज की ओर कार को ले गए। इसी कार में युवती से दुष्कर्म किया गया और मौके पर कार में सवार अन्य लोगों ने इसका विडियो बना लिया। इसी दौरान युवक भी कार लेकर वंहा आ गए और उसके साथ दुष्कर्म किया।

यह भी पढ़ें:  बीकानेर जिले में सरपंच सहित 9 लोगो पर दुष्कर्म का मामला दर्ज

युवती ने पुलिस को बताया कि वह कार में सवार लागों में गुलाब और अभिषेक को पहचानती है और गुलाब ने ही इस पूरे घटनाक्रम का विडियो वायरल कर बदनाम करने की धमकी दी थी। इसी के डर के कारण उसने छह माह तक किसी को इसकी जानकारी नही दी।

अतिरिक्त पुलिस कमिश्नर अजयपाल लांबा (Ajaypal Lamba)ने बताया कि इस मामले को गंभीरता से लिया गया है। इसके लिए शहर के चारों डीसीपी सहित करीब 10 आईपीएस और 40 सीआई व एक सौ से अधिक पुलिसकर्मियों को लेकर टीम बनाई

ऐसे हुई पहचान
पुलिस टीम को रविवार को युवती के हरदोई, उत्तर प्रदेश में रहने की जानकारी मिली। यह जानकारी मिलने पर पुलिस ने युवती से संपर्क किया और उसे जयपुर आने को कहा। यंहा पहुंचने पर युवती ने मानसरोवर पुलिसथाने में मामला दर्ज करवाया। युवती की रिपोर्ट पर पुलिस ने तत्परता बरतते हुए लखनऊ, इंदौर और जयपुर सहित अन्य स्थानों पर दबिश देकर मोंटी, अभिषेक व संजू बंगाली को गिरफ्तार किया। पुलिस ने पीड़िता का मेडिकल करवाकर 161 सीआरपीसी के बयान दर्ज कराए है। इसके साथ ही सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे वीडियो को भी (IT Team) आईटी टीम की मदद से रुकवाया।
पुलिस इस मामले से जुड़े अन्य लोगों की तलाश कर रही है और पकड़े गए लोगों से गहनता से पूछताछ की जा रही है।