अन्तर्राष्ट्रीय महिला दिवस से पहले पुलिसथाने में एसआई ने महिला से किया दुष्कर्म, 3 अधिकारी सस्पेंड, सीओ लाइन हाजिर

0
2
Khedli Police Station in Alwar district , SI Raped women, Khedli Police Station, IG, Hawa Singh Ghumriya,

अलवर। अन्तर्राष्ट्रीय महिला दिवस (international women’s day) से पहले जिले के खेड़ली (Khedli Police Station )में पुलिस का मानवता को शर्मसार करने वाला मामला प्रकाश में आया है। पुलिस से रक्षा की उम्मीद में एक 26 वर्षीय पीड़िता को थाने के उप निरीक्षक ने ही हवस का शिकार बना डाला। इस मामले में पुलिस ने तीन अधिकारियों को सस्पेंड कर दिया है। पीड़िता ने रविवार को एसआई भरत सिंह के खिलाफ दुष्कर्म का मामला दर्ज कराया था। इस मामले को गंभीरता से लेते हुए लक्ष्मणगढ़ सीओ अशोक को लाइन हाजिर किया गया है।

ये है पूरा मामला

अलवर जिले के खेड़ली पुलिस थाने में 26 वर्षीय महिला अपने पति के खिलाफ प्रताड़ना का मामला दर्ज कराने आई। थाना में पुलिस उप निरीक्षक ने थाना परिसर के भीतर ही दुष्कर्म की घटना को अंजाम दे दिया। इस मामले को स्थानीय स्तर पर छिपाने का प्रयास किया गया लेकिन जब युवती उच्चाधिकारियों तक फरियाद लेकर पहुंची तो मामले ने तूल पकड़ लिया। इस मामले की गंभीरता को देखते हुए जयपुर रेंज आईजी हवासिंह घुमरिया (IG Hawa Singh Ghumaria)और अलवर पुलिस अधीक्षक तेजस्वनी गौतम (Alwar SP Tejaswini Gautam)थाने पहुंचे और पूरे मामले की जानकारी ली। जिसमें सामने आया कि आरोपी एसआई ने महिला को परिवाद दर्ज करने तथा पति के साथ काउंसिलिंग कराने का झांसा देकर थाना परिसर में बने अपने कमरे में बुलाकर तीन दिन दुष्कर्म किया।

दुष्कर्म की पुष्टि

पीड़िता से दुष्कर्म की पुष्टि के बाद पुलिस ने मेडिकल मुआयना कराया है।

पुष्टि होने पर एसआई गिरफतार

खेड़ली पुलिसथाने में महिला से दुष्कर्म की पुष्टि होने के बाद आरोपी एसआई भरत सिंह जादौन को गिरफ्तार कर लिया गया। उससे इस मामले में पूछताछ की जा रही है। आरोपी एसआई भरतसिंह मूल रूप से गांव रेबाडपुरा थाना बयाना जिला भरतपुर का रहने वाला है। फिलहाल वह अपने परिवार के साथ दौसा में रहता है। एसआई पिछले दो साल से खेड़ली थाने में कार्यरत है।

ये हुए सस्पेंड

खेड़ली थाने के आरोपी एसआई भरत सिंह, एसएचओ हनुमान सहाय और एचएम सत्यप्रकाश को सस्पेंड कर दिया है। सीओ अशोक सिंह को पद से हटा दिया है।

दुष्कर्म का मामला दर्ज

अलवर जिला पुलिस अधीक्षक तेजस्वनी गौतम ने बताया कि खेड़ली पुलिसथाने के एसआई भरत सिंह के खिलाफ धारा 376 के तहत मामला दुष्कर्म का मामला दर्ज कराया गया है। इस मामले में एसआई को गिरफतार करने के साथ ही इस पूरे मामले की जांच राजगढ़ पुलिस उपाधीक्षक अंजली जोरवाल को सौंपी गई है।

पति के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने आई थी पीड़िता

खेड़ली पुलिसथाना में 2 मार्च को शाम करीब 5.30 बजे अपने पति के खिलाफ मामला दर्ज कराने गई। इस दौरान पुलिसथाना मेंएसआई भरत सिंह मौजूद था। महिला ने उसे पति के खिलाफ परिवाद देकर पूरा मामला बताया कि पति तलाक देना चाहता है पर वह नही देना चाहती। इस पर एसआई ने उसे उसके और पति के बीच काउंसिलिंग कराने की बात कही। इसके बाद एसआई उसे अपने क्वाटर में ले गया और दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया। इस रविवार को जब पीड़िता पुलिसथाना में दर्ज परिवाद की जानकारी लेने आई तो एसआई ने फिर से छेड़छाड़ व दुष्कर्म का प्रयास किया। इसकी शिकायत पीड़िता ने पुलिसथानाधिकारी हनुमान सहाय को दी। किसी तरह से यह मामला अलवर एसपी को पता चला तो उन्होंने आरोपी एसआई के खिलाफ केस दर्ज करने के निर्देश दिए।

हेगी सख्त कार्रवाई

आईजी हवासिंह घुमरिया ने बताया कि एसआई की ओर से पुलिसथाना परिसर में पीड़ित महिला से लगातार 2, 3 व 4 मार्च को परिवाद में राहत प्रदान करने का झांसा देकर दुष्कर्म करने के मामले की पुष्टि हो चुकी है। इस मामले में अन्य किसी की भूमिका पाई जाती है तो उसके खिलाफ भी सख्त कार्रवाई की जायेगी।