अलवर के थानागाजी में नये आंगनबाड़ी केन्द्र खोले जाएंगे – महिला एवं बाल विकास राज्य मंत्री

0
1
Mamta Bhupesh, Anganwadi , Women and Child Development Minister,
Alwar News। महिला एवं बाल विकास राज्य मंत्री(Women and Child Development Minister) ममता भूपेश (Mamta Bhupesh) ने गुरूवार को विधानसभा में कहा कि थानागाजी विधानसभा क्षेत्र में केन्द्र सरकार द्वारा नियमों में शिथिलता देने के बाद ही (Anganwadi centers ) नये आंगनबाड़ी केन्द्र खोले जाएंगे। उन्होंने बताया कि प्रदेश की भौगोलिक स्थिति को देखते हुये जनसंख्या के आधार पर आंगनबाडी केन्द्र खोले जाने के नियम में शिथिलता के लिए केन्द्र सरकार को कई बार पत्र लिखा जा चुका है।
श्रीमती भूपेश प्रश्नकाल में विधायकों द्वारा इस संबंध में पूछे गये पूरक प्रश्नों का जवाब दे रही थी। उन्होंने कहा कि प्रदेश में गांव-ढाणियों की दूरी अधिक होने के कारण दूरी के आधार पर आंगनबाडी केन्द्र खोले जाने के लिए फिर से केन्द्र सरकार को पत्र लिखा जाएगा। उन्होंने बताया कि पूर्व में भी राज्य सरकार द्वारा केन्द्र सरकार को कई बार पत्र लिखे गये। उन्होंने बताया 28 जुलाई 2015 को केन्द्र सरकार से अन्तिम बार पत्र प्राप्त हुआ जिसमें कोई भी नया केन्द्र खोलने की अनुमति नहीं है। उन्होंने प्रतिपक्ष के सदस्यों से की आग्रह किया कि राज्य की भौगोलिक स्थिति के मद्देनजर नये आंगनबाड़ी केन्द्र खोलने के लिए अपने प्रभाव का उपयोग करें।
इससे पहले विधायक कान्ति प्रसाद के मूल प्रश्न के लिखित जवाब में भूपेश ने बताया कि बाल विकास परियोजना थानागाजी के अन्तर्गत 185 आंगनबाड़ी केन्द्र व 13 मिनी आंगनबाड़ी केन्द्र कुल 198 आंगनबाड़ी केन्द्र संचालित हैं। उन्होंने बताया कि 400 से 800 की आबादी पर आंगनबाड़ी केन्द्र तथा 150 से 400 की आबादी पर मिनी आंगनबाड़ी केन्द्र खोले जाने का प्रावधान है, जिसके अनुसार मिनी आंगनबाड़ी केन्द्रों को आंगनबाड़ी केन्द्र में क्रमोंन्नत किये जाने का प्रावधान नहीं है।
श्रीमती भूपेश ने बताया कि मिनी आंगनबाड़ी केन्द्र के क्षेत्र की आबादी बढ़ने की स्थिति में मिनी आंगनबाड़ी केन्द्र के स्थान पर नवीन आंगनबाड़ी केन्द्र खोला जा सकता है। उन्होंने बताया कि वर्तमान में नवीन आंगनबाड़ी केन्द्र खोलने पर भारत सरकार की अनुमति नहीं है। भारत सरकार के स्तर से नवीन आंगनबाड़ी खोलने की स्वीकृति प्रदान किये जाने पर नवीन आंगनबाड़ी केन्द्र खोलने सम्बन्धी कार्यवाही की जा सकती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here