केंद्र सरकार ने देश को आत्मनिर्भर और विश्व गुरु बनाने वाला बजट पेश किया : सांसद दीया कुमारी

0
3

जयपुर । सांसद दीया कुमारी ने संसद में पेश बजट के समर्थन में बोलते हुए कहा कि प्रस्तावित बजट में बुनियादी उपाय, शिक्षा, योजनाएं, कौशल विकास, स्वास्थ्य और स्वच्छता से संबंधित मुद्दों पर विशेष ध्यान दिया है। जो आर्थिक विकास के साथ-साथ रोजगार के अवसरों को और बढ़ाएगा।

प्रधानमंत्री और वित्त मंत्री को बधाई देते हुए सांसद ने कहा कि यह बजट देश को सही मायने में आत्मनिर्भर और विश्व गुरु बनाने हेतु सरकार की संकल्प शक्ति को दर्शाता है। सांसद ने मानव संसाधन विकास के तहत 99,312 करोड़ में से राजस्थान के लिए 40,000 करोड़ के आवंटन के लिए भी सरकार को धन्यवाद दिया।

सांसद दीया ने कहा कि महामारी ने हमें स्वास्थ्य संस्थानों के महत्व को समझते हुए स्वास्थ्य व्यय में 137% की वृद्धि की जो सराहनीय है। भारत में दो कोविड -19 टीकों के उत्पादन की सफलता ने मेड इन इंडिया की सोच को मजबूत किया है।

वस्त्र पार्क की स्थापना जैसे उदार उपाय, कपड़ा और एमएसएमई को मजबूत करने में मदद करेंगे।

महिला सशक्तिकरण और राष्ट्रीय शिक्षा नीति पर बोलते हुए सांसद ने कहा कि प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना को 1 करोड़ लाभार्थियों द्वारा आगे बढ़ाने का निर्णय लिया गया है। यह बजट 15हजार स्कूलों के गुणात्मक सुदृढ़ीकरण पर केंद्रित है जो राष्ट्रीय शिक्षा नीति के कार्यान्वयन की दिशा में एक बड़ा कदम है।

सांसद दीयाकुमारी ने कहा कि एक सैनिक की बेटी होने के नाते में 100 नये सैनिक और एकलव्य मॉडल स्कूल खोलने के निर्णय का स्वागत करती हूं। सरकार के बजट ने किसानों के महत्व और कृषि से जुड़े बुनियादी ढांचे के निर्माण को स्वीकार किया है। सरकार उत्पादन लागत से 1.5 गुना अधिक एमएसपी पर लगातार खरीद बढ़ा रही है।

कर संग्रहण पर बोलते हुए सांसद दीयाकुमारी ने कहा कि आधुनिक प्रौद्योगिकी के बढ़ते उपयोग ने कर चोरी को रोकने में मदद की है। यह पिछले कुछ महीनों में रिकॉर्ड जीएसटी संग्रह से स्पष्ट है। यही नहीं, इस वर्ष देश की पहली डिजिटल जनगणना करने का सरकार का निर्णय भी स्मरणीय है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here