शिक्षा के नये आयाम स्थापित करने के लिए केंद्रीय विद्यालय आवश्यक- सांसद दीयाकुमारी

0
12
kendriya vidyalaya, best education , Diya Kumari , Rajsamand MP, Ramesh Pokhriyal,

जयपुर। सांसद दीयाकुमारी (Diya Kumari) ने केंद्रीय शिक्षा मंत्री (Education Minister) रमेश पोखरियाल निशंक से मुलाकात कर संसदीय क्षेत्र राजसमंद के अन्तर्गत जिला मुख्यालय राजसमंद एंव उपखण्ड मुख्यालय भीम और विधानसभा मेड़ता में केन्द्रीय विद्यालय (kendriya vidyalaya) स्थापित करवाए जाने के सम्बन्ध तथ्यात्मक जानकारी प्रस्तुत करते हुए लंबी वार्ता की।

संसद सत्र के दौरान शिक्षा मंत्री से मिलते हुए सांसद दीयाकुमारी ने कहा कि मोदी सरकार के नेतृत्व में शिक्षा के क्षेत्र में अविस्मरणीय कार्यों की शुरुआत हुई है। राजसमन्द लोकसभा क्षेत्र भी लाभान्वित हो इसके लिए केंद्रीय विद्यालय खोलने की स्वीकृतियां जारी करना आवश्यक है।

सांसद ने कहा कि स्कूल शिक्षा के नये आयाम स्थापित हो एवं गुणवत्तापूर्ण शिक्षा विद्यार्थियों को उनके निवास के निकट ही मिले इसके लिए जरूरतमंद क्षेत्तों में केंद्रीय विद्यालयों की स्थापना करना चाहिए। संसदीय क्षेत्र राजसमंद के जिला मुख्यालय राजसमंद एवं भीम के उपखण्ड मुख्यालय के साथ साथ विधानसभा मेड़ता में केन्द्रीय विद्यालय खोलने की क्षेत्रवासियों की मांग काफी समय से लंबित है। केंद्रीय विद्यालय इन क्षेत्रों की प्राथमिक आवश्यक है।

तथ्यात्मक जानकारी देते हुए सांसद (MP) दीयाकुमारी ने कहा कि मेड़ता में केंद्रीय विद्यालय 80 किमी की दूरी पर है जो मेड़ता के लिए उपयुक्त नहीं है वहीं राजसमन्द क्षेत्र जिला एवं संसदीय क्षेत्र का मुख्यालय है तो भीम उपखंड पर पूर्व सैनिकों की काफी बड़ी संख्या है। ऐसे में पूर्व सैनिक परिवारों के साथ न्यायोचित व्यवस्था करना भी हमारा दायित्व बनता है। भीम के एक अन्य स्कूल में तुरंत प्रभाव से केंद्रीय विद्यालय शुरू हो सके ऐसी व्यवस्था भी पूरी है।

सांसद ने कहा कि इस सम्बंध में पूर्व में भी कई बार विभाग से पत्राचार किया गया है। इस पर शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने सांसद दीयाकुमारी को आश्वस्त करते हुए कहा कि इस सम्बंध में जल्दी ही सकारात्मक निर्णय करके आम जनता को राहत प्रदान की जाएगी।

यह भी पढ़ें:  राजस्थान में कक्षा 1 से 7 तक के विद्यार्थी बिना परीक्षा अगली कक्षा में होंगे प्रमोट