बीकानेर में सोने की खरीद में 651 करोड़ का फर्जीवाड़ा, व्यापारियों में मचा हड़कंप

0
23
Fake invoicing under GST, Input Tax Credit (ITC), Fraud in Bikaner, GST Fraud, State GST Anti Evasion, Bogus billing in GST

बीकानेर। राजस्थान स्टेट एंटीइवेजन (State GST Anti Evasion) की टीम ने मंगलवार को सोने (Gold Purchase) की खरीददारी के बिलों में जीएसटी (Fake invoicing under GST) की गड़बड़ी के मामले में बीकानेर की एक फर्म (Jeweller) पर दबिश देकर 651 करोड़ रुपये के बिलों में फर्जीवाड़ा पकड़ा है। वास्तविक तौर पर यह फर्म बीकानेर के बताये पते पर थी ही नही। इसके फर्जी बिलों से 19 करोड़ 33 लाख रुपये की Input Tax Credit (ITC)आईटीसी का दुरुपयेाग भी इन फर्म के द्वारा किया गया। स्टेट एंटीइवेजन टीम की इस कार्रवाई के बाद सोने चांदी के व्यपारियों में हड़कंप मचा हुआ है।

राजस्थान स्टेट एंटीइवेजन के आयुक्त अभिषेक भगोटिया के निर्देशन में की गई कार्रवाई में जीएसटी बिलों में बड़ा फर्जीवाड़ा पकड़ा है। शहर की रेनेशा इंटरप्राइजेज नामक फर्म पर कार्रवाई की गई है। प्रारंभिक जांच में सामने आया कि यंहा पर जीएसटी बिलों में बड़ा फर्जीवाड़ा पकड़ा गया है। बीकानेर के सुजानदेशर, गंगाशहर सहित अन्य जगहों पर बनाई गई फर्मों के बिल बनाए गए।

यह सभी फर्म सुजानदेशर, गंगाशहर और बीकानेर में दशाई गई लेकिन मौके पर संचालित ही नही की गई। इन सभी फर्म के बिलों से सोने की खरीददारी और बेचने का काम किया जा रहा था। इसमें सोने की खरीददारी में करीब 20 करोड़ रुपये के टैक्स की चोरी सामने आई है।

व्यापारियों में मचा हड़कंप
राजस्थान स्टेट एंटीइवेजन की टीम (State GST Anti Evasion Team)द्वारा की गई कार्रवाई से स्थानीय सोने चांदी के कारोबारियों में हड़कंप मचा हुआ है।
एसजीसटी की टीम सोने के व्यापार से जुड़े बिलों की जांच कर रही है।

यह भी पढ़ें:  बीकानेर में बड़ी कार्रवाई, 651 करोड़ का फर्जीवाड़ा पकड़ा