हम अनजाने में नए जमाने की मनोरंजन क्रांति का हिस्सा बन गए हैं: बरुन सोबती

0
1
अरुंधती बनर्जी

मुंबई, 26 दिसंबर (आईएएनएस)। अभिनेता बरुन सोबती का कहना है कि वैश्विक महामारी के दौरान इस साल जारी डिजिटल शो की बदौलत उनके जैसे अभिनेताओं को उनकी योग्यता के अनुरूप व्यापक ⊃2;श्यता मिली है। इस प्रक्रिया में वे बिना योजना के डिजिटल क्रांति का हिस्सा बन गए हैं।

बरुन को वेब सीरीज असुर में अपनी भूमिका और डिजिटल रूप से रिलीज हुई फिल्म हलाहल को लेकर सराहना मिली है। उनकी हालिया रिलीज वेब सीरीज द मिसिंग स्टोन है, जिसमें बिदिता बाग भी हैं।

बरुन ने आईएएनएस से कहा, मुझे लगता है कि जब लोग हरित क्रांति में भाग ले रहे थे, तब उन्हें नहीं पता था कि वे वास्तव में क्रांति का हिस्सा बन रहे हैं। इसी तरह, हम कलाकार अनजाने में डिजिटल क्रांति का हिस्सा बन गए हैं, जहां घरेलू मनोरंजन को फिर से परिभाषित किया गया है। हां, यह वैश्विक महामारी के कारण अब और अधिक ⊃2;श्यमान हो गए हैं, लेकिन यह चीज पिछले कुछ वर्षों से हो रहा है। जब हमारे जैसे अभिनेताओं की बात आती है, तो मैं कह सकता हूं कि मैं एक बहुत ही खुशहाल जगह पर हूं और यह वह जगह है जहां मैं अपने करियर में होना चाहता था।

द मिसिंग स्टोन ध्वनि और साहिर के इर्द-गिर्द घूमती है। एक सरप्राइज बर्थडे पार्टी के दौरान उनकी जिंदगी उलट जाती है।

बरुन ने कहा, कहानी एक विश्वसनीय आधार पर लिखी गई है और काफी भरोसेमंद है। कहानी हमारे दर्शकों के साथ प्रतिध्वनित होगी और वे यह सोच नहीं पाएंगे कि अगर हमारे साथ ऐसा होता है तो क्या हो सकता है।

विशाल फुरिया और आलोक नाइक द्वारा निर्देशित, द मिसिंग स्टोन में राशी मल, साकिब अयूब, विठ्ठल काले, पल्लवी पाटिल भी हैं, यह एमएक्स प्लेयर पर उपलब्ध है।

–आईएएनएस

एमएनएस/वीएवी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here