राज्य अभिलेखागार को डा.खड़गावत ने दिलाई अंर्तराष्ट्रीय पहचान, ब्रिटिश सरकार ले रही सलाह

0

बीकानेर। राजस्थान राज्य अभिलेखागार की कार्यशैली और अभिलेखों के डिजिटेलाइजेशन के काम को देश के साथ अब दुनियांभर से सराहा जा रहा है। डिजिटल क्रांति और डिजिटल इंडिया में मिशाल बन चुके इस अभिलेखागार में रियासतकालीन और अंग्रेजी शासन की अमूल्य अभिलेख धरोहर आने वाली पीढ़ियों के लिए वरदान साबित होगी। इससे आने वाली पीढ़िया देख और जान सकेंगी कि आखिर देश की सांस्कृतिक, शैक्षणिक अैार रियासतकालीन इत्यादि व्यवस्था कैसी रही। इसी के चलते ब्रिटिश सरकार (University of Exeter व British Library) ने इस काम को अपने देश में करने के लिए कई सेमीनार और कार्यशालाओं का आयोजन किया है, जिसमें अभिलेखागार के डायरेक्टर डा.महेंद्र खड़गावत को 7 जून से 17 जून 2018 तक आमंत्रित किया है।
डा.महेंद्र खड़गावत ने यूके जाने से पूर्व बताया कि यूनिवर्सिटी आॅफ एक्सेटर (university of Exeter,UK) और ब्रिटिश लाईब्रेरी को डिजिटल बनाने और दस्तावेजेां को सुरक्षित व सरंक्षित रखने के लिए कई तरह के कार्यक्रम वर्ष 2018 में आयेाजित हेांगे। जिसमें यूके में दस दिनेां तक अलग अलग कार्यक्रम दस्तावेजेां के डिजिटेलाइजेशन से संबधित आयोजित किए गए है।

मुख्यमंत्री जनसंवाद : प्रदेश में न्यूनतम दैनिक मजदूरी बढ़ी
यूनिवर्सिटी की और से आयेाजित इन सभी कार्यक्रमों में डा.खड़गावत आर्काइव्ज प्रोजेक्ट व डिजिटल आर्काइव्ज पर प्रेजेंटेशन देंगे और पूरी प्रकिया पर विस्तार से जानकारी देंगे।
डा.खड़गावत ने बताया कि यूनिवर्सिटी के हयूमैनिटिज डिपार्टमेंट व राजस्थान आर्काइव्ज के साथ एमओयू किया जायेगा। जिसमें दिसम्बर 2018 में बीकानेर और लंदन मे कई कार्यक्रम आयोजित होेंगे।
गौरतलब है कि इससे पूर्व डॉ खड़गावत को 2017 मे अमेरिका की यूनिवर्सिटी ऑफ पेनसिलवेनिया ने भी आमंत्रित किया था और वहा के प्रोफेशनल ने डिजिटल आर्काइव्ज के कॉन्सेप्ट और आर्काइव्ज की वर्किंग सिस्टम की जानकारी लेकर सरकार के इस कार्य की प्रशंसा की थी।
देश का पहला डिजिटल आर्काइव्ज बनने पर राजस्थान स्टेट आर्काइव्ज को दुनिया भर से प्रसंशा मिल रही है। अंतरराष्ट्रीय स्तर पर डॉ खड़गावत के कार्यों की बहुत प्रशंसा हो रही है। अब इससे दुनियां के अन्य देश दस्तावेजेां के सरंक्षण व डिजिटेलाइजेशन को सीख रहें है। हालांकि प्रदेश की मुख्मंत्री वसुंधरा राजे सिंधिया भी इस अभिलेखागार को डिजिटल दुनियां के लिए अवतार बता चुकी है।

खुशखबरी: अब चंडीगढ़ से शिमला 6 घंटे का सफर 20 मिनट में करें

जेट एयरवेज की सस्ती ‘उड़ान सेवा’: यूपी, बिहार, एमपी, महाराष्ट्र को मिलेगी सस्ती उड़ान सेवा

भारतीय सेना दुश्मन देश का किसी भी स्थिति में मुकाबला करने को तैयार

हर ताजा खबर जानने के लिए हमारी वेबसाइट www.hellorajasthan.com विजिट करें या हमारे फेसबुक पेजट्विटर हैंडल,गूगल प्लस से जुड़ें।हमें Contact करने के लिएhellorajasthannews@gmail.comपर मेल कर सकते है।

Leave a Reply