भाजपा नेता के मकान पर आश्रम की आड़ में सेक्स रैकेट का पर्दाफाश

गुरुग्राम। भारतीय जनता पार्टी के पूर्व विधायक और वरिष्ठ नेता के मकान पर वृद्वाश्रम की आड़ में सैक्स रेकेट चलाने का मामला सामने आया है। यंहा पर दिल्ली यूनिवर्सिटी की रिटायर्ड लेक्चरर ने पटोदी के पूर्व विधायकर पर वृद्धाश्रम की आड़ में सेक्स रैकेट चलाने का आरोप लगाया है। इस वृद्धाश्रम का किराया 50 हजार रुपए प्रति महीने था. इस मकान पर पटौदी के पूर्व विधायक और अब बीजेपी के वरिष्ठ नेता भूपेंद्र चौधरी की नेम प्लेट लगी है।
उन्होने पुलिस को दी रिपोर्ट में रिटायर्ड लेक्चरर नीलम सिंह ने बताया कि जब वो यहां कुछ दिन रही, तो पता चला कि यहां सेक्स रैकेट चलाया जा रहा है। महिलाओं को भूखा रखा जाता था। पूर्व में गुड़गांव के साउथ सिटी-2 के ई-ब्लॉक के मकान में चल रहे वृद्धाश्रम में ऑनलाइन संपर्क कर छह महीने पहले आई थीं। उसने बताया कि वे उनके पति रिटायर्ड आईएएस थे। कुछ महीने पहले कैंसर के चलते उनका निधन होने और निजी परेशानी के चलते वृद्धाश्रम की तलाश में यहां आ पहुंची। उन्होंने आरोप लगाया कि उनसे यहां मारपीट की जाती थी। भूखा रखा जाता था, रुपए देने के बावजूद बावजूद डॉक्टर्स की टीम भी यहां नहीं थी। इस सब लापरवाही के चलते यहां एक महिला की मौत भी हो चुकी है।
नीलम सिंह का आरोप है कि गुरुवार को पूर्व विधायक भूपेंद्र सिंह अपने कुछ बदमाशों के साथ मकान पर पहुंचे और उनसे मारपीट की। महिला ने इसकी शिकायत सदर थाना पुलिस को दी। जब पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की तो इससे दुखी होकर महिला ने बुधवार को मकान की छत से सुसाइड करने की कोशिश की। इस पर पूर्व विधायक भूपेंद्र चौधरी ने कहा कि उन्होंने गुड़गांव के पटेल नगर के रहने वाले राकेश राणा को मकान किराए पर दिया था। एग्रीमेंट समय खत्म होने के बाद वो उससे मकान खाली कराने के लिए गए थे। एग्रीमेंट की जानकारी सदर थाने में दी हुई है। पुलिस इस मामले की जांच कर रही है।

पाइए हर खबर अपने फेसबुक पर।   likeकीजिए  hellorajasthan का Facebook पेज।