दीपावली पर्व पर व्यवस्था करने के संबंध में दिए आवश्यक दिशा-निर्देश

0
DIWALI PATHAKE, DIWALI BAZAR, FIRE DIWALI, DIWALI NEWS, DIWALI PHOTO,
बीकानेर। जिला मजिस्ट्रेट डॉ. एन के गुप्ता ने एक आदेश जारी कर जिले में स्थित पैट्रोलियम एवं उससे बने पदार्थों अनुज्ञापित्त क्षेत्र व उसके आस-पास पटाखे, आतिशबाजी के प्रयोग को प्रतिबंधित किया है। यह आदेश दीपावली त्यौहार के मद्देनजर जारी किए है।
डॉ. गुप्ता ने दण्ड प्रक्रिया संहिता 1973 की धारा 144 के अन्तर्गत शक्तियों का प्रयोग करते हुए जिले में स्थित पैट्रोलियम एवं उनसे बने पदार्थों के संस्थान (यथा पैट्रोल पम्प, गैस गोदाम, गैस बॉटलिंग आदि) के अनुज्ञापित्त क्षेत्र एवं उससे 500 मीटर परिधि के क्षेत्र में पटाखों, आतिशबाजी के प्रयोग को प्रतिबंधित किया है। साथ ही बीकानेर शहर के महत्वपूर्ण मार्गों महात्मा गांधी मार्ग, स्टेशन रोड, गंगाशहर रोड, दाऊजी रोड, सट्टा बाजार गली, लाभूजी कटला, बडा बाजार, तोलियासर भैरूजी की गली, सुभाष मार्ग व कपड़ा बाजार (गंगाशहर) आदि क्षेत्रों में पटाखे, आतिशबाजी को प्रतिबंधित किया है।
जिला मजिस्ट्रेट के आदेशानुसार अस्पताल, शिक्षण संस्थाएं, धार्मिक परिसर या अन्य ऐसा स्थान जिसे सक्षम अधिकारी ने शांत क्षेत्र घोषित किया है, उससे 100 मीटर के क्षेत्र में पटाखे, आतिशबाजी के प्रयोग को निषिद्ध किया है। सर्वोच्च न्यायालय के दिशा-निर्देश 23 अक्टूबर 2018 की अनुपालना में जिले में रात 8 बजे से 10 के अलावा अन्य समय में  पटाखों, आतिशबाजी के उपयोग करने, छोडने व चलाने को भी प्रतिबंधित  किया है। आर्मी ऐरिया, एयर फोर्स बीकानेर, नाल तथा आर्मी के एम्यूनेशन डिपो के 500 मीटर परिधि में भी आतिशाबजी के प्रयोग व छोड़ने पर पूर्ण प्रतिबंधित किया गया है।
डॉ. गुप्ता ने बताया कि दंड प्रक्रिया संहिता के तहत 5 नवम्बर से 10 नवम्बर तक कोई भी व्यक्ति इस अवधि में किसी भी प्रकार के आग्नेयस्त्र जैसे रिवाल्वर, पिस्तौल, राइफल सभी प्रकार की बंदूकें एवं धारदार हथियार जैसे गंडासा, फर्सा, तलवार, कृपाण, भाला, चाकू, कुल्हाड़ी, बर्छी तथा आपत्तिजनक विस्फोट पदार्थ लेकर चलने एवं प्रदर्शन करने हेतु पूर्ण रूप से प्रतिबन्धित रहेगा। इस आदेश का उल्लंघन करने पर भारातीय दण्ड संहिता के प्रावधानों के अन्तर्गत दण्डनीय अपराध माना जावेगा एवं दोषियों के विरूद्ध नियमानुसार कार्यवाही अमल में लाई जावेगी।
यह आदेश सशस्त्र पुलिस, होमगार्ड, सेना व उन सरकारी कर्मचारियों पर, जो कानून व्यवस्था की ड्यूटी के संबंध में अपने पास हथियार रखने हेतु अधिकृत किए हुए हैं, पर लागू नहीं होगा।
जिला मजिस्ट्रेट ने दीपावली पर्व पर अलग-अलग अधिकारियों को 5 नवम्बर से 09 नवम्बर तक व्यस्थाएँ सुचारू रखने हेतु निर्देश प्रदान किये हैं। इसके तहत जिला पुलिस अधीक्षक को दीपावली पर शान्ति एवं कानून व्यवस्था बनाये रखने, यातायात की विशेष व्यवस्था, बिना अनुज्ञापत्र के  फायर वर्क्स (पटाखें) विक्रय पर अकंुश लगाने हेतु, अधीक्षण अभियन्ता, सार्वजनिक निर्माण विभाग को प्रमुख सड़क एवं मार्गो के गढ्ढों की मरम्मत करवाने हेतु निर्देश प्रदान किए।
डॉ. गुप्ता ने अधीक्षण अभियन्ता, जोधपुर विद्युत वितरण निगम को उक्त त्यौहार पर सम्पूर्ण जिले में विद्युत आपूर्ति सुचारू बनाये रखने एवं 5 नवम्बर से राउन्ड दी क्लॉक कन्ट्रोल रूम स्थापित करने हेतु तथा अधीक्षक, पी.बी.एम. अस्पताल को उक्त त्यौहार पर एम्बूलेन्स व डॉक्टर्स टीम मय तैयारी हालत में रखने एवं बर्न यूनिट की राउन्ड दी क्लॉक ड्यूटी लगाने हेतु पाबन्द किया है।
रेल प्रबन्धक से आग्रह
डॉ. गुप्ता ने मण्डल रेल प्रबन्धक, उत्तर-पश्चिम रेल्वे, बीकानेर से आग्रह किया है कि त्यौंहार के समय जितना संभव हो सके शहर के मुख्य मार्गों से गुजरने वाली रेलवे लाईन के रेलवे फाटक अधिक समय तक बंद नहीं रहें, इसके लिए मण्डल रेलवे प्रबन्धक अपने स्तर पर आवश्यक दिशा-निर्देश जारी करें, ताकि यातायात बाधित न हो।
उन्होंने आयुक्त नगर निगम को शहर में समुचित सफाई व्यवस्था, सभी रोड लाईटे चालू करवाने, आवारा पशुओं को पकडा़ने की तथा फायर बिग्रेड की व्यवस्था सुनिश्चित करने हेतु संबंधित को पाबन्द करने के निर्देश दिए। साथ ही सडको पर अतिक्रमण न हो इसके लिए भी संबंधित अधिकारी को नियमित भ्रमण हेतु पाबन्द करने के निर्देश प्रदान किये।
हर ताजा खबर जानने के लिए हमारी वेबसाइट www.hellorajasthan.com विजिट करें या हमारे फेसबुक पेजट्विटर हैंडल,गूगल प्लस से जुड़ें। हमें Contact करने के लिएhellorajasthannews@gmail.comपर मेल कर सकते है।

Leave a Reply