लोकसभा चुनाव 2019 : भाजपा अपनाएगी अब T-20 फॉर्मूला

0

नई दिल्ली। चुनाव का समय नजदीक आते ही सभी राजनैजिक पार्टियां सियासी गणित लगाना शुरु कर देती है, ठीक इसी तरह से भारतीय जनता पार्टी ने भी बड़ी रणनीति तैयार की है। खासतौर पर आगामी लोकसभा चुनाव में वर्ष 2014 जैसे नतीजे दोहराने के लिए भाजपा ‘टी-20’ फॉर्मूला आजमाएगी।
सहारा इण्डिया कंपनी ने किया करोड़ों का गबन, कोर्ट में मामला, फिर भी कम्पनी जमाकर्ताओं के रिकाॅर्ड को खुर्द बुर्द करने में जुटी

भाजपा ‘टी-20’ फॉर्मूला
एक तरफ क्रिकेट का टी 20-20 का फार्मूला है वही अब भाजपा भी इसे अपनाने वाली है। इसमें एक कार्यकर्ता 20 घरों में जाकर चाय पिएगा और मोदी सरकार की उपलब्धियों की जानकारी उन घरों के सदस्यों को देगा। टी-20 के अलावा भाजपा ने श्हर बूथ दस यूथ, नमो ऐप सम्पर्क पहल एवं बूथ टोलियों के माध्यम से नरेंद्र मोदी सरकार की उपलब्धियों को घर-घर पहुंचाने का कार्यक्रम तैयार किया है। भाजपा ने अपने सांसदों, विधायकों, स्थानीय एवं बूथ स्तर के कार्यकर्ताओं से अपने अपने क्षेत्रों में जनता को सरकारी योजनाओं की जानकारी पहुंचाने को कहा है। भाजपा के एक वरिष्ठ नेता ने कहा कि पार्टी कार्यकर्त्ताओं से कहा गया है कि वे अपने क्षेत्र के प्रत्येक गांव में जाएं और कम से कम 20 घरों में जाकर चाय पिएं। इस टी-20 पहल का मतलब जनता से सीधे संवाद स्थापित करना है।

बड़ी खबर : चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर JDU में हुए शामिल
उल्लेखनीय है कि 2014 के लोकसभा चुनाव में नरेंद्र मोदी ने आक्रामक प्रचार शैली अपनाई थी। इसमें खास तौर पर सूचना तकनीक माध्यम का उपयोग किया गया था। इसका खास आकर्षण 3-डी रैलियों का आयोजन था। इन 3-डी रैलियों में एक ही समय में कई स्थानों पर बैठे लोगों के साथ एक साथ जुडने की पहल की गई थी। सोशल मीडिया के माध्यम से लोगों को जोडने और चाय पर चर्चा की पहल भी की गई थी। अगले लोकसभा चुनाव के लिए भाजपा अपने उस अभियान को और व्यापक स्तर पर ले जाना चाहती है।
भाजपा की बूथ स्तर पर रणनीति
SBI ने बदला कैश डिपॉजिट का नियम, अब दूसरे के खाते में नहीं जमा कर पाएंगे कैश

भाजपा ने बूथ स्तर के लिये एक विस्तृत पावरफुल रणनीति बनाई है। जिसमें पार्टी कार्यकर्ताओं से कहा गया है कि वे नरेंद्र मोदी ऐप से अधिकाधिक लोगों को जोड़ें। अगले सप्ताह नरेंद्र मोदी ऐप का नया प्रारूप आने वाला है, जिसमें पहली बार कार्यकर्ताओं के कार्यों के संबंध में भी एक खंड होगा। उन्होंने बताया कि कार्यकर्ता क्या करने वाले हैं, उसका एक खंड ऐप में होगा। इसमें बताया जाएगा कि लोगों को कैसे जोड़ना है। ऐप में कुछ साहित्य, छोटे-छोटे वीडियो और ग्राफिक्स के रूप में सूचनाएं भी होंगी।
पार्टी ने प्रत्येक मतदान केंद्र पर 100 लोगों को नरेंद्र मोदी ऐप से जोडने का लक्ष्य निर्धारित किया है। हर बूथ पर पार्टी के सभी मोर्चों के प्रमुख कार्यकर्त्ताओं की टोली बनाई जा रही है, जो मोदी सरकार एवं राज्य सरकार (जहां भाजपा की सरकारें हैं) की योजनाओं से होने वाले सीधे लाभ की जानकारी देगी। पार्टी के वरिष्ठ नेता ने बताया कि कोशिश करना है कि हर बूथ पर 20 नए सदस्य जोड़े जाएं। हमें हर वर्ग से, हर समाज के सदस्यों को पार्टी से जोड़ना है।
भाजपा का घर-घर दस्तक

खुशखबरी: फ्लाइट लेट हुई तो मिलेगा 1000 रुपये का क्लेम
पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में मंथन के बाद कार्यकर्ताओं से घर-घर दस्तक अभियान पर तेजी से अमल करने को कहा गया है। हर बूथ पर लगभग दो दर्जन कार्यकर्त्ताओं की टोली बनायी जा रही है। यह टोली हर रोज सुबह-शाम और छुट्टी वाले दिनों में घर-घर जाकर परिवारों से मिलेगी। इसके साथ ही टोली दुकानदारों एवं अन्य छोटे-मोटे काम करने वालों से भी संपर्क करेगी। भाजपा का यह संपर्क अभियान कई दौर में चलेगा और लोगों को बताएगा कि विपक्ष के आरोप एवं सरकार के काम की हकीकत क्या है? देश पांच सालों में कहां पहुंच गया है और अगले पांच साल में क्या होगा?
अब देखना यह है कि पार्टी का ये नया फार्मूला मतदाताअेां को कितना लुभा पायेगा।

सोशल मीडिया का इस्तेमाल गंदगी फैलाने के लिये नहीं करने का संकल्प लें: प्रधानमंत्री

अब कैश जमा करने के लिए SBI ने फिर बदला नियम

खास खबर : टीबी से महिलाओं और पुरुषों में बांझपन का खतरा

हर ताजा खबर जानने के लिए हमारी वेबसाइट www.hellorajasthan.com विजिट करें या हमारे फेसबुक पेजट्विटर हैंडल,गूगल प्लस से जुड़ें। हमें Contact करने के लिएhellorajasthannews@gmail.comपर मेल कर सकते है।

Leave a Reply