2019 लोकसभा, विधानसभा चुनाव सम्मान के साथ लड़ेंगे, बीजेपी के साथ गठबंधन नहीं- शिवसेना

0

मुंबई। केंद्र में सत्तारूढ़ राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) की करीब दो दशक से अहम सहयोगी रही शिवसेना ने 2019 में लोकसभा, विधानसभा चुनाव बीजेपी के साथ गठबंधन के बिना ही लड़ा जाएगा।

यह घेाषणा शिवसेना की मंगलवार को हो रही राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में की गई। शिवसेना महाराष्ट्र और केंद्र में बीजेपी की अहम सहयोगी है। महाराष्ट्र में दोनों दलों की मिलीजुली सरकार है। कार्यकारिणी की बैठक में शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने कहा कि उनकी पार्टी हिंदुत्व की रक्षा के लिए हर राज्य में चुनाव लड़ेगी।

उल्लेखनीय है कि शिवसेना और बीजेपी में राज्य और केंद्र स्तर पर संबंधों में लंबे समय से तनाव चल रहा है। उद्धव ठाकरे ने कुछ दिन पहले ही धमकी दी थी कि अगर जरूरत हुई तो उनकी पार्टी एनडीए से अलग भी हो जाएगी। पार्टी नेता संजय राउत ने कहा कि उनकी पार्टी 2019 का लोकसभा और विधानसभा चुनाव अलग लड़ेगी।
खास खबर : अब ऐड्रेस प्रूफ के लिए पासपोर्ट नही होगा मान्य

शिवसेना के इस फैसले को उद्धव के बयान से ही जोड़कर देखा जा रहा है। गौरतलब है कि 2014 में पिछला विधानसभा चुनाव भी सीटों के बंटवारे पर पेच फंसने के कारण बीजेपी और शिवसेना ने अलग ही लड़ा था। इस चुनाव में बीजेपी सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी थी और शिवसेना ने चुनाव बाद बीजेपी से गठबंधन कर सरकार बनाई थी।
पढ़ें: – आखिर आपका आधार कार्ड कहां-कहां हुआ इस्तेमाल, ऐसे जाने

देवेंद्र फडणवीस सरकार में 39 सदस्यीय मंत्रिमंडल में शिवसेना के 12 मंत्री हैं। इनमें 5 कैबिनेट स्तर के मंत्री शामिल हैं। केंद्र में एनडीए सरकार में शिवसेना का एक मंत्री अनंत गीते हैं।

अब आधार लिंक करवाने की आखिरी तारीख 31 मार्च 2018

25 जनवरी को रिलीज होगी पद्मावत, अक्षय कुमार की पैडमैन से होगी टक्कर

देशभर में देह व्यापार को वैध करने की मांग

रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने फाइटर जेट सुखोई में भरी उड़ान

पढ़ें: -मोबाइल उपभोक्ता इस तरह से आधार से लिंक करें अपना मोबाइल नंबर

पाइए हर खबर अपने फेसबुक पर।   likeकीजिए  hellorajasthan का Facebook पेज।

Leave a Reply