प्रधानमंत्री ने हर्शिल, उत्तराखंड में जवानों के साथ दीवाली मनाई

0
DIWALI, PM MODI

देहरादून।  प्रधानमंत्री  नरेंद्र मोदी ने आज उत्तराखंड के हर्शिल में भारतीय सेना और आईटीबीपी के जवानों के साथ दीवाली मनाई।

भारत के संदेश को विश्‍व तक पहुंचाने का अभियान जारी रखें : उपराष्‍ट्रपति

The Prime Minister, Shri Narendra Modi celebrating Diwali with the jawans of the Indian Army and ITBP, at Harsil, in Uttarakhand on November 07, 2018.इस अवसर पर जवानों को शुभकामना देते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि सुदूर बर्फीली चोटियों पर आप सब देश की सुरक्षा में लगे हैं, ये आपका कर्तव्य  देश के 125 करोड़ भारतीयों के भविष्य और सपने को सुरक्षित करने में सक्षम है। उन्होंने कहा कि दीवाली रौशनी का त्यौहार है; यह अच्छाई की रौशनी फैलाता है और डर को दूर भगाता है।उन्होंने कहा कि आप सब जवान, अपनी प्रतिबद्धता और अनुशासन के माध्यम से, आम लोगों के मन में सुरक्षा और निडरता की भावना  दे रहे हैं।

प्रधानमंत्री नेThe Prime Minister, Shri Narendra Modi celebrating Diwali with the jawans of the Indian Army and ITBP, at Harsil, in Uttarakhand on November 07, 2018. याद दिलाते हुए कहा कि वे जब गुजरात के मुख्यमंत्री थे तब से दीवाली जवानों के साथ मनाते आ रहे हैं। उन्होंने आईटीबीपी के जवानों के साथ अपनी बातचीत के संस्मरण को भी साझा किया जब वे कई वर्ष पहले कैलाश मानसरोवर यात्रा की यात्रा पर गए थे।

यदि आप चाहते हैं घर में सुख शांति और समृद्धि तो दिवाली के दिन खरीदें लक्ष्मी माता की यह तस्वीर

प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत तेजी से रक्षा क्षेत्र में आगे बढ़ रहा है। उन्होंने पूर्व सैनिकों के कल्याण के लिए उठाए जा रहे विभिन्न उपायों जैसे ओआरओपी (वन रैंक, वन पेंशन) सहित कई मुद्दों पर अपनी बात रखी। प्रधानमंत्री ने कहा कि भारतीय सेना को संयुक्त राष्ट्र शांति कार्य संचालन में पूरी दुनिया में प्रशंसा और सराहना मिली है।

प्रधानमंत्री ने जवानों को मिठाई भी खिलाया। उन्होंने आस-पास के इलाकों के लोगों से भी बातचीत की जो दीवाली के इस मौके पर उन्हें बधाई देने के लिए इकट्ठा हुए थे।

हर ताजा खबर जानने के लिए हमारी वेबसाइट www.hellorajasthan.com विजिट करें या हमारे फेसबुक पेजट्विटर हैंडल,गूगल प्लस से जुड़ें। हमें Contact करने के लिएhellorajasthannews@gmail.comपर मेल कर सकते है।

Leave a Reply