नाबालिग दुष्कर्म केस: आसाराम को दुष्कर्म मामले में उम्रकैद

0

जेाधपुर। नाबालिग से दुष्कर्म के आरोप में 2013 से बंद आसाराम (80 )को जोधपुर सेंट्रल जेल में विशेष एससी-एसटी कोर्ट के जज मधुसूदन शर्मा ने बुधवार को देानेां पक्षों की सुनवाई करते हुए पेास्को एक्ट की धारा 6 में उम्रकैद की सजा सुनाई है। जबकि शरद व शिल्पी को को 20 – 20 साल की सजा सुनाई है। वंही एक – एक लाख रुपये का जुर्माना भी लगाया गया है। हालांकि इससे पहले सुबह जज ने इस मामले में देाषी करार दिया गया था। जेल में जैसे ही आसाराम को सजा सुनाई गई तो वे रो पड़े।

निजी सुरक्षा एजेन्सियों द्वारा लगाये गये सुरक्षा कर्मियों को भी मिले न्यूनतम मजदूरी -गृहमंत्री
आसाराम के समर्थकों की भीड़ व देशभर में फैले इनके भक्त मंडलों को को देखते हुए केंद्रीय गृह मंत्रालय ने राजस्थान, गुजरात और हरियाणा को विशेष हिदायत दी है कि किसी भी सूरत में हिंसा नहीं होनी चाहिए। इसलिए सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त करने के निर्देश दिए है।

राजस्थान: केंद्रीय राज्यमंत्री के पुत्र ने कहा “मुझे व मेरे परविार को बदनाम करने की साजिश”
अब भगवान से उम्मीद
जोधपुर जेल में बंद आसाराम ने पहले कहा था कि अब भगवान से ही उम्मीद है, होई है वही जो राम रचि राखा।
गवाह महेंद्र ने कहा जान का खतरा, मांगी पुलिस सुरक्षा 
दुष्कर्म के मामले में बंद आसाराम व उसके पुत्र नारायण साईं के खिलाफ चल रहे केसों में अहम गवाह पानीपत के गांव सनौली निवासी महेंद्र चावला ने अतिरिक्त सुरक्षा की मांग की है। उन्होंने कहा कि मैं न्यायपालिका पर भरोसा करता हूं और मुझे विश्वास है कि आसाराम को दोषी ठहराया जाएगा।
देशभर में अनुयायी कर रहे पूजा पाठ
केन्द्र और राज्य के नवाचारों ने दुनियाभर के पर्यटकों को आकर्षित किया -मुख्यमंत्री

देशभर में आसाराम के लिए भक्त आज पूजा पाठ कर रहे है। आसाराम के विभिन्न आश्रमों में भक्त इकठ्ठा होकर उसकी रिहाई के लिए पूजा कर रहे हैं।
चार अन्य आरोपी
आसाराम के साथ उसके प्रमुख सेवादार शिवा, रसोइए प्रकाश द्विवेदी, वार्डन शिल्पी और एक अन्य साथी शरतचंद्र भी विभिन्न धाराओं में आरोपी बनाए गए हैं।

जोधपुर में धारा 144
IRCTC से आधार लिंक करने पर अब पाएं 10,000 रुपए कैश और फ्री में रेल टिकट

कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए जोधपुर छावनी में तब्दील हो गया है। पुलिस की छह कंपनियां भेजी गई हैं। शहर में धारा 144 लगा दी गई है। पुलिस होटलों और धर्मशालाओं की सघन जांच की जा रही है।
इन धाराअेां में दर्ज है मामला 
पेास्को एक्ट में दर्ज इस मामले में आईपीसी की 376, 376(2), 376(क) और पॉक्सो एक्ट की 5(ह)6 व 7/8 में मामला दर्ज है।
12 जमानत याचिकाएं, सभी खारिज
– 01 सितंबर 2013 को गिरफ्तारी के बाद से आसाराम जेल में है। इस दौरान उसने 12 जमानत याचिकाएं लगाईं। इनमें से 6 ट्रायल कोर्ट में और तीन-तीन राजस्थान हाईकोर्ट और सुप्रीम कोर्ट में खारिज हुईं। आसाराम पर गुजरात में भी दुष्कर्म का एक मामला चल रहा है।
खास खबर: भ्रष्ट अधिकारियों पर गिरेगी गाज, मोदी सरकार का बड़ा फैसला

ये है आरोप
आसाराम के गुरुकुल में पढ़ने वाली उतरप्रदेश की एक छात्रा ने अपने बयान में कहा, मुझे दौरे पड़ते थे। गुरुकुल की एक शिक्षिका ने मेरे माता-पिता से कहा आसाराम से इलाज कराएं। आसाराम ने मुझे जोधपुर के पास मणाई गांव के फार्म हाउस में लाने को कहा। वहां पहुंचे तो मेरे माता-पिता को बाहर रोक दिया गया। उनसे कहा गया कि आसाराम विशेष तरीके से मेरा अकेले में इलाज करेंगे। इसके बाद मुझे एक कमरे में भेज दिया गया। वहां पर आसाराम पहले से मौजूद थे। उन्होंने मेरे साथ अश्लील हरकतें की। साथ ही धमकी दी कि यदि मैं चिल्लाई तो कमरे से बाहर बैठे उसके माता-पिता को मार दिया जाएगा। मुझे ओरल सेक्स करने को कहा था, लेकिन मैंने मना कर दिया।
जेल में फैसला सुनाने का चैथा मामला
देशभर में प्रधानमंत्री मोदी की लहर बरकरार, लोकसभा चुनाव में फिर लहराएगा एनडीए का परचम: सर्वे

जोधपुर जेल के हॉल को कोर्ट रूम के लिए तैयार किया गया है, इससे पहले 31 साल पहले टाडा कोर्ट बनी थी और कठघरे में अकाली नेता गुरचरणसिंह टोहरा खड़े थे। इंदिरा गांधी के हत्यारों, आतंकी कसाब और राम-रहीम को भी जेल में ही फैसला सुनाया गया।                                                                                                        देरी से पहुंचे आसाराम
जेल में अपने दैनिक पूजा पाठ के बाद आसाराम करीब 15 मिनट देरी से पहंचे। इन्होने अपनी पूजा पाठ की और हाथ जोड़कर भगवान से प्रार्थना करने के बाद वे निर्धारित समय से देरी से वे पहुंचे।

कृषि संबंधी नवीनतम वैज्ञानिक तकनीक व ज्ञान को अपनाएं किसान-केन्द्रीय राज्यमंत्री

एयर इंडिया का शानदार आॅफर: बुजुर्गों को आधे किराये में कराएगा हवाई सफर

पाइए हर खबर अपने फेसबुक पर।  Like कीजिए  hellorajasthan का Facebook पेज

Leave a Reply