भारतीय रेलवे में लंबे समय से अनुपस्थित कर्मचारियों के खिलाफ कार्रवाई

0

नई दिल्ली। केन्द्रीय रेल एवं कोयला मंत्री पीयूष गोयल के निर्देश पर रेल मंत्रालय ने संगठन का प्रदर्शन बेहतर करने और निष्ठावान एवं मेहनती कर्मचारियों का मनोबल बढ़ाने के लिए एक अभियान शुरू किया है।

खास खबर : ‘स्वस्थ राज्य, प्रगतिशील भारत’ रिपोर्ट जारी

      रेलवे के विभिन्न प्रतिष्ठानों में लंबे समय से अनुपस्थित कर्मचारियों की पहचान करने के लिए एक व्यापक अभियान शुरू किया गया है। इस अभियान के परिणामस्वरूप रेलवे ने अपने लगभग 13 लाख कर्मचारियों में से 13 हजार से भी अधिक ऐसे कर्मचारियों की पहचान की है जो लंबे समय से अनधिकृत तौर पर अनुपस्थित हैं। प्रतिष्ठान ने इन अनुपस्थित कर्मचारियों की सेवाएं समाप्त करने के लिए नियमों के तहत अनुशासनात्मक कार्रवाई शुरू की है।

बीकानेर : केन्दीय मंत्री मेघवाल के प्रयासों से नीट का परीक्षा केन्द्र स्थापित

      रेलवे ने सभी अधिकारियों और पर्यवेक्षकों को उचित प्रक्रिया पर अमल के बाद कर्मचारियों की सूची से इन कर्मचारियों का नाम हटाने का निर्देश दिया है।

पढ़ें: – आखिर आपका आधार कार्ड कहां-कहां हुआ इस्तेमाल, ऐसे जाने

Padmaavat के बाद अब विवादों में ‘‘ मणिकार्णिका ‘‘: इस फिल्म में ऐसा कोई प्रेम प्रसंग नही है: कंगना

पाइए हर खबर अपने फेसबुक पर।   likeकीजिए  hellorajasthan का Facebook पेज।

Leave a Reply