बीकानेर में पहली बार हुआ बैलून पद्धति से बच्चे के पल्मोनरी वाल्व का इलाज

0

बीकानेर। ह्रदय चिकित्सा में बच्चो के ह्रदय के वाल्व की खराबी का उपचार अब बीकानेर में संभव हो सकेगा।
फोर्टिस डी टी एम् हॉस्पिटल के ह्रदय रोग विशेषज्ञ डॉ. रामेश्वर बिश्नोई ने आठ वर्षीय प्रवीण सोनी के पल्मोनरी वाल्व की सिकुड़न का बिना चीर फाड़ बैलून पद्धति से उपचार कर इसे संभव किया। प्रवीण सोनी इस वाल्व की सिकुड़न की वजह से सांस फूलने की तकलीफ से पीड़ित था। रोगी प्रवीण के माता पिता ने डॉ रामेश्वर बिश्नोई से संपर्क किया तो इसे बैलून पद्धति से उपचार हेतु उपयुक्त पाया। 20 ऍम ऍम के बैलून से वाल्व की सिकुड़न को बिना चीर फाड़ के दूर किया अब रोगी पूर्णत स्वस्थ है। प्रवीण के माता पिता अपने बच्चे के स्वस्थ होने पर बहुत खुश है और कह रहे हैं कि यही होता है सच्चा चिकित्स्कीय दायित्व।

सोशल मीडिया का इस्तेमाल गंदगी फैलाने के लिये नहीं करने का संकल्प लें: प्रधानमंत्री
ज्ञात रहे प्रवीण का यह उपचार भामशाह योजना में निशुल्क हुआ जबकि निजी क्षेत्र में यह उपचार लगभग डेढ़ लाख रूपया खर्च होने पर होता है।  इस उपलबधिजनक अवसर पर वार्ड के रोगियों परिजनों एवं स्टाफ ने केक काट कर बच्चे के स्वस्त होने की ख़ुशी ज़ाहिर की।

सुरक्षा ऐप और मिर्च स्प्रे से बढ़ते यौन शोषण पर रोक लगाने की पहल

खास खबर : अब ATM से रुपये निकालने का समय भी हुआ तय

खुशखबरी: ड्राइविंग लाइसेंस सहित अन्य कागज डिजिटल रूप में भी होंगे वैध

हर ताजा खबर जानने के लिए हमारी वेबसाइट www.hellorajasthan.com विजिट करें या हमारे फेसबुक पेजट्विटर हैंडल,गूगल प्लस से जुड़ें। हमें Contact करने के लिएhellorajasthannews@gmail.comपर मेल कर सकते है।

Leave a Reply