अजमेर दरगाह बलास्ट मामले में 3 आरोषी दोषी, 7 बरी

0

जयपुर। अजमेर दरगाह ब्लास्ट मामले में सीबीआई कोर्ट संख्या दो एवं (राष्ट्रीय अनुसंधान संस्था (एनआईए) (विशेष प्रभार) की अदालत ने बुधवार को फैसला सुनाया है, जिसमें 14 आरोपियों में से तीन को दोषी माना गया है जबकि सात जनेां को बरी कर दिया गया। दोषियों में एक जने की मौत हेा चुकी है।
एनआईए की विशेष अदालत के न्यायाधीश दिनेश गुप्ता ने दरगाह ब्लास्ट मामले में तीन जनों को दोषी मान लिया गया है। जिसमें भावेश पटेल, देवेंद्र गुप्ता को दोषी माना गया है। वंही सुनील जोशी की मौत हेा चुकी है। वंही इस मामले में सात जनों को बरी कर दिया गया है।
दोनेां देाषियेां पर एक एक लाख रुपए का जुर्माना लगाया गया है।
यह है मामला
अजमेर के ख्वाजा मोइनुद्दीन हसन चिश्ती की दरगाह में 11 अक्टूबर वर्ष 2007 में रमजान के महीने में हुए बम विस्फोट में तीन जनों की मौत हो गई थी जबकि करीब 15 अन्य घायल हुए थे।

पाइए हर खबर अपने फेसबुक पर।   likeकीजिए  hellorajasthan का Facebook पेज।

Leave a Reply